UPSESSB TGT PGT Vacancy 2024 : यूपी में शिक्षक, क्लर्क के 27002 पदों पर होगी भर्ती, संसद से बड़ा ऐलान


UPSESSB TGT PGT Vacancy 2024 : उत्तर प्रदेश में टीजीटी और पीजीटी के पदों पर हो रही भर्ती के लिए अब पदों की संख्या बढ़ाए जाने की उम्मीद है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में प्रिंसिपल और शिक्षक के हजारों पद खाली पड़े हुए हैं, जिसको लेकर अब संसद में भी भर्ती की मांग उठने लगी है। वहीं संसद से एक आंकड़ा भी निकल करके आया है, जो बताता है कि धीरे-धीरे प्रदेश में शिक्षकों के पदों में कितनी कमी आई है। आखिर प्रदेश में लगातार शिक्षकों के पदों पर होने वाली भर्तियों को क्यों पूरा नहीं किया जा रहा है। क्या अब संसद में मामला उठने के बाद इन पदों पर भर्ती की जाएगी ? क्या मांग के अनुसार इन पदों को यूपी टीजीटी पीजीटी में शामिल किया जाएगा या नहीं ? ऐसे तमाम सवालों के जवाब आज आपको इस आर्टिकल में देखने को मिलेंगे। देखिए क्या कहती है पूरी रिपोर्ट..

संसद में उठा मामला (Matter raised in Parliament) -

उत्तर प्रदेश में सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में प्रधानाचार्य और शिक्षकों की भर्ती को लेकर अब मामला संसद तक पहुंच गया है। जहां विधानसभा सदस्य डॉ. अजय कुमार ने इसको लेकर संसद में सवाल किया। वहीं उनके प्रश्न का जवाब राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार गुलाब देवी ने दिया। अपने जवाब में उन्होंने प्रदेश में प्रिंसिपल, प्रवक्ता और प्रशिक्षित स्नातक के पदों का पूरा ब्यौरा दिया। इतना ही नहीं उन्होंने खाली पदों की संख्या का आंकड़ा भी संसद में रखा। 

इतने पदों को टीजीटी पीजीटी में शामिल करने की मांग (Demand to include so many posts in UPSESSB TGT PGT) -

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार गुलाब देवी ने बताया कि एडेड कॉलेजों में प्रिंसिपल के करीब 2663 पद खाली हैं। दरअसल प्रदेश के एडेड कॉलेजों में प्रिंसिपल के 4,166 पद स्वीकृत हैं। इसमें से मात्र 1505 पद ही भरे ही हैं। बाकी के 2663 पद खाली हैं। वहीं प्रदेश में प्रवक्ता के कुल 20,525 पद हैं। जिसमें से 16,141 पद तो भरे हुए हैं, परंतु 4,384 पद खाली हैं। वहीं प्रशिक्षित स्नातक के कुल 66,334 पद हैं। जहां इसमें से 45,869 पद भरे हुए हैं, परंतु 20,465 पद खाली हैं। इस तरह करीब 27,512 पद खाली हैं, जिन्हें यूपी टीजीटी और पीजीटी में शामिल किए जाने की मांग उठ रही है। 

प्रदेश में शिक्षकों के पदों में आई कमी (Reduction in the posts of teachers in the state) -

उत्तर प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों की संख्या में काफी कमी देखने को मिल रही है। राज्यसभा में प्रस्तुत किए गए आंकड़े बताते हैं कि उत्तर प्रदेश में बीते 1 वर्ष में परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों की संख्या करीब 1.39 लाख कम हो गई है। बता दें कि 2023 से 2024 के दौरान प्रदेश में शिक्षकों के स्वीकृत पदों की संख्या 7,19,399 थी। हालांकि 202
3 से 2024 के दौरान इस संख्या में करीब 1.39 लाख शिक्षकों की कमी आई। यानी की 2023-24 में परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों की संख्या 5,79,622 रह गई। 

हर खबर की अपडेट सबसे पहले प्राप्त करें - 

आपके काम की हर महत्वपूर्ण खबर और अपडेट उपलब्ध है हमारे इस वेबसाइट पर। चाहे हो रोजगार से जुड़ी खबर या हो योजनाओं संबंधी जानकारी हर अपडेट और हर खबर आपको मिलेगी हमारे इस वेबसाइट पर। अगर आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई खबर प्रकाशित करें तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिले तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं जिसका लिंक इस पोस्ट के नीचे हरे रंग की पट्टी में दिया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट का नोटिफिकेशन सबसे तेज और पहले प्राप्त कर सकते हैं। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आपको हर खबर का नोटिफिकेशन सबसे तेज मिल जाता है और आपसे आपके काम की कोई भी महत्वपूर्ण खबर नहीं छूटती है।
Previous Post Next Post


फास्टर अप्डेट्स के लिए जुड़िये हमारे टेलीग्राम चैनल से - यहाँ क्लिक करिये

CLOSE ADVERTISEMENT